1969 में वन्यजीव बोर्ड ने शेर को देश का राष्ट्रीय पशु घोषित किया, फिर

Spread the love

Last Updated on August 15, 2022 by kumar Dayanand

1969 में वन्यजीव बोर्ड ने शेर को देश का राष्ट्रीय पशु घोषित किया. फिर 1973 में शेर के स्थान पर बाघ को राष्ट्रीय पशु घोषित किया गया. वर्तमान राष्ट्रीय पशु ' बाघ ' है ।

शक्ति, शान, सतर्कता, बुद्धिमत्ता और फुरती , रॉयल बंगाल टाइगर की खासियत है।
इसकी लावण्‍यता, ताकत, फुर्तीलापन और अपार शक्ति के कारण बाघ को
भारत के राष्‍ट्रीय जानवर के रूप में चुना गया था।
भारत में बाघों की घटती जनसंख्‍या की जांच करने के लिए अप्रैल
1973 में प्रोजेक्‍ट टाइगर शुरू की गईबाघ के पहले , या यह कह सकते है कि स्वतंत्रता के पश्चात -' शेर ' ( Lion ) भारत देशका राष्ट्रीय पशु था भारत देश का सर्वप्रथम राष्ट्रीय पशु ‘ शेर ‘ था ।

नोट :सन् 1972 तक शेर ही भारत देश का राष्ट्रीय पशु हुआ करता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.