Brahmacharya™ (ब्रह्मचर्य) Celibacy – बात कड़वी है पर सच है।

Spread the love

Brahmacharya™ (ब्रह्मचर्य) Celibacy – बात कड़वी है पर सच है । 

ओ शरीरों पर आकर्षित होने वाले युवा , क्या ये देह तुझे अपनी तरफ खींच रही है ?

अब जाग , इसकी असलियत तो देख,
क्या तुझे इस देह के अंदर भरे पड़े मल, मूत्र, कफ, खून ,हड्डिया नही दिखाई देती ?

क्यों गुलाम हुआ है तू इस विनाशी देह का , ये तो तुझे मंजिल (लक्ष्य) तक नही पहुंचने देगा?

क्या जो ये हड्डियों के ऊपर 2 इंच की चमड़ी की सुंदरता , तुझे भटका रही है , क्या वो परमानेंट है ?

Brahmacharya™ (ब्रह्मचर्य) Celibacy - बात कड़वी है पर सच है।

अपने कीमती वक्त को इस तरह मिट्टी में मत मिला !

जब जब तू कामी बना है तो सोच क्या तेरी आत्मा तुझे गवाही देती है ?? या तूने उसकी आवाज सुनना ही बंद कर दिया है ??

अरे याद कर उन शहीदों को जिन्होंने देश के लिए अपनी जान दे दी और तू क्या कर रहा है , किधर जा रहा है ?

रुक और सोच , मोबाइल को एक तरफ रख आज !

Brahmacharya™ (ब्रह्मचर्य) Celibacy - बात कड़वी है पर सच है।

वादा कर मुझसे तू आज कि

आगे से इस मिट्टी की तरफ , राख की तरफ आकर्षित नहीं होगा , काम विकार का विष की भांति त्याग करेगा और भारत को विश्वगुरु बनाएगा । कर वादा इसी घड़ी तू मुझसे ।

जीवन को हीरा बनाना है तो
टेलीग्राम के समूची दुनिया के सबसे बड़े मौलिक शिक्षा के चैनल से जुड़े लिंक myjiolife है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *