How to Stop Hair Loss?

Spread the love

Last Updated on August 15, 2022 by kumar Dayanand

सर्दियों में बाल झड़ने से हैं परेशान, तो अपनाएं ये आसान उपाय

Hair loss in winter bothers you, so follow this simple remedy.

डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन के चलते भी असमय बाल पकने और गिरने लगते हैं। डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन एक हार्मोन है जो बालों के झड़ने और पकने में अहम भूमिका निभाता है। इससे कई तरह की बीमारियां जन्म लेती हैं जिनसे यौवनावस्था पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

आजकल गलत खानपान, खराब लाइफस्टाइल, तनाव और चिंता के चलते बालों की समस्या आम बात हो गई है। विशेषज्ञों की मानें तो बालों के पकने और गिरने की वजह शरीर में विटामिन-सी की कमी है। साथ ही डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन के चलते भी असमय बाल पकने और गिरने लगते हैं। डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन एक हार्मोन है जो बालों के झड़ने और पकने में अहम भूमिका निभाता है। इससे कई तरह की बीमारियां जन्म लेती हैं, जिनसे यौवनावस्था पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। यह बालों के विकास के लिए भी जिम्मेवार होता है। जब इसमें असंतुलन पैदा होता है, तो बाल पकने और झड़ने लगते हैं। यह असंतुलन तनाव के चलते होता है। खासकर सर्दियों में बालों की चमक और नमी खो जाती है। इसके लिए सर्दी के दिनों में बालों की विशेष देखभाल जरूरी है। अगर आप भी सर्दियों में बालों के झड़ने से परेशान हैं, तो डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन हार्मोन को संतुलित करें। साथ ही इन उपाय को जरूर करें-

सर्दी के मौसम के लिए गुड़ रामबाण दवा है।

डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन के चलते भी असमय बाल पकने और गिरने लगते हैं। डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन एक हार्मोन है जो बालों के झड़ने और पकने में अहम भूमिका निभाता है। इससे कई तरह की बीमारियां जन्म लेती हैं जिनसे यौवनावस्था पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। आजकल गलत खानपान, खराब लाइफस्टाइल, तनाव और चिंता के चलते बालों की समस्या आम बात हो गई है। विशेषज्ञों की मानें तो बालों के पकने और गिरने की वजह शरीर में विटामिन-सी की कमी है। साथ ही डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन के चलते भी असमय बाल पकने और गिरने लगते हैं। डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन एक हार्मोन है जो बालों के झड़ने और पकने में अहम भूमिका निभाता है। इससे कई तरह की बीमारियां जन्म लेती हैं, जिनसे यौवनावस्था पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। यह बालों के विकास के लिए भी जिम्मेवार होता है। जब इसमें असंतुलन पैदा होता है, तो बाल पकने और झड़ने लगते हैं। यह असंतुलन तनाव के चलते होता है। खासकर सर्दियों में बालों की चमक और नमी खो जाती है। इसके लिए सर्दी के दिनों में बालों की विशेष देखभाल जरूरी है। अगर आप भी सर्दियों में बालों के झड़ने से परेशान हैं, तो डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन हार्मोन को संतुलित करें। साथ ही इन उपाय को जरूर करें-

1. मेथी को बालों के लिए वरदान माना जाता है। इसके सेवन से न केवल मोटापे में आराम मिलता है, बल्कि बालों की समस्या से भी निजात मिलता है। वहीं, सर्दी के मौसम के लिए गुड़ रामबाण दवा है। इसकी तासीर गर्म होती है। इसके सेवन से शरीर गर्म रहता है। जबकि, मेथी और गुड़ के सेवन से सर्दियों में बालों की गिरने की समस्या से निजात मिलता है। इसके लिए रोजाना आधा चम्मच मेथी के दाने और गुड़ के छोटे टुकड़े का एकसाथ सेवन करें।

2. 25 ग्राम मेथी को अच्छी तरह से पीसकर इसमें बादाम का तेल मिक्स कर लें। अब इस मिश्रित पेस्ट को अपने बालों की जड़ों में लगाएं। इसके बाद हल्के हाथों से बालों की मालिश कर एक घंटे तक छोड़ दें। जब समय पूरा हो जाए तो अपने बालों को नार्मल पानी से धों लें। गिरते बालों को कम करने अथवा रोकने में यह रामबाण उपाय है।

3. दो चम्मच मेथी के दानों को अच्छी तरह से भून लें। जब यह भून जाएं तो ग्राइंडर की मदद से पीस लें। अब इसमें साफ़ पानी मिलाकर इसका पेस्ट बना लें। इसके बाद मिश्रित पेस्ट को अपने बालों के स्कैल्प में लगाकर कुछ समय तक छोड़ दें। अब बालों को नार्मल पानी से धो लें। इसके इस्तेमाल से बालों के असमय गिरने की समस्या से निजात मिल सकता है।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.