My love Story: उसकी आँखों में मोहब्बत की चमक आज भी है, हालांकि उसे

My love Story: उसकी आँखों में मोहब्बत की चमक आज भी है,

हालांकि उसे मेरी मोहब्बत पर शक आज भी है,

घर में बैठ कर धोये थे, हाथ और माथे का सिंदूर उसने कभी,

पूरे तालाब में मेहंदी और सिंदूर की महक आज भी है,

छू तो नहीं पाया उसे प्यार से कभी,

पर मेरे होठों पर उसके होठों की लक आज भी है,

हर बार पूछते हैं, हमारी चाहत का सबब,

वैसी ही श्क की ये परख आज भी है,

नहीं रह पाते वो भी हमारे बिना,

दोनों तरफ श्क की दहक आज भी है |

By: Dayanand Sir Alies: Deepak Sir

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status